पिंपल्स हटाने के लिए घरेलू उपाय

पिंपल्स हटाने के लिए घरेलू उपाय

पिंपल्स और कील -मुंहासों की शुरुआत प्रायः किशोरावस्था में ही होती है। पिंपल्स के कारण – इसकी मुख्य वजह यह है कि किशोरावस्था में त्वचा में चिकनाई पैदा करने वाली ग्रंथियां सक्रिय हो जाती हैं या फिर अनियमित रूप से काम करने लगती हैं। इन ग्रंथियों से तेल निकलकर रोमकूपों में इकट्ठा हो जाता है जो मुंहासे होने का कारण बनता है। पिंपल्स होने के संदर्भ में खान-पान का भी बहुत असर पड़ता है। रक्त अशुद्ध है तब भी मुंहासे होने का भय बना रहता है। पिंपल्स हटाने के लिए कई तरह की क्रीम बाजार में मिल ही जाती है लेकिन उनके प्रयोग से भी कई बार प्रभावकारी असर नहीं होता बल्कि चेहरे पर दाग धब्बे बढ़ जाते है | इस लिए हम आपको बताएँगे कुछ आसान घरेलू आजमाए हुए उपाय जो पूरी तरह से प्राकृतिक चीजो से बने हुए है जिससे इनके कोई साइड इफेक्ट्स भी नहीं होते है

Pimples  के लिए घरेलू नुस्खे

  • pimples  के लिए नीम के पत्तों को पानी में उबालें, अब इस पानी को ठंडा करके चेहरा धोएं। धीरे-धीरे पिंपल्स खत्म हो जाएंगे।
  • यदि पिंपल्स ज्यादा हों तो नीम की पत्ती का पाउडर, चंदन पाउडर, लौंग, हल्दी, शहद (Honey) व गुलाब जल का लेप लगाएं।
  • पिंपल्स हटाने के लिए चोकर, नींबू का रस, आलू का रस व दूध का लेप लगायें |
  • सुबह-शाम दूध का लेप करने से भी पिम्पल्स से छुटकारा पाया जा सकता है।
  • कद्दूकस किया हुआ आलू लगाने से पिम्पल्स के धब्बे दूर हो जाते हैं।
  • पिंपल्स में यदि पस (मवाद) भर गया हो तो चंदन का लेप लगाएं। ऐसा करने से दर्द भी कम होगा और निशान भी दूर होंगे।
  • पिंपल्स उपचार करने के लिए मसूर की दाल पानी में भिगोकर पीस लें। इसका लेप चेहरे पर लगाएं।
  • इससे पिम्पल्स के निशान कम हो जाएंगे।
  • वैसे तो पिंपल्स तैलीय त्वचा पर होते हैं, पर यदि शुष्क त्वचा पर पिंपल्स हों तो टमाटर का पैक लगाने से राहत मिलती है।
  • पिंपल्स हटाने के लिए रात को एक चम्मच मलाई में नींबू का रस मिलाकर फेंट लें।
  • यह पेस्ट रात में लगाकर सो जाएं। प्रातः कुनकुने पानी से मुंह धो लें।
  • जायफल को दूध में पीसकर लगाने से पिंपल्स दूर होते हैं।
  • यदि क्रीम की चिकनाई से आपके चहरे पर पिंपल निकल आएं हों
  • तो पिंपल्स हटाने के लिए फलों का अर्क, खीरे का रस या शहद लगाएं।
  • पिंपल्स हटाने के लिए शहद, दही और अंडे की सफेदी मिलाकर दिन में एक बार चेहरे पर लगाएं।
  • HONEY 

  • शहद प्राकृतिक रूप से नमी देता है, दही में लैक्टिक एसिड होने से रंगत निखरती है।
  • अंडे की सफेदी से त्वचा की कोशिकाओं में वृद्धि होती है। इससे चेहरे के दाग-धब्बे व पिंपल्स मिट जाते हैं।
  • मुंहासों के दाग पर सेब का रस लगाएं। महीने-भर में दाग दूर हो जाएंगे।
  • मस्सों की प्रारंभिक अवस्था मुहांसे या पिंपल्स होती है, अत: हम कह सकते हैं.
  • कि मस्सों का प्रारंभिक रूप मुहांसे हैं। मस्सों पर नियंत्रण पाना हो तो सर्वप्रथम मुहांसों से बचने के कारगर उपाय करने चाहिए, ताकि कील और ब्लैक हैड्स से भी बचा जा सके।
  • त्वचा को स्वच्छ तथा पारदर्शक रखने पर मस्सों की बढ़त रुकती है, इसलिए दिन में दो बार औषधियुक्त नीम हर्बल साबुन से चेहरा साफ करें।
  • HOME REMEDY FOR PIMPLES 

  • गुलाबजल को रुई के फोहों से हल्के हाथों से बिना रगड़े लगाना चाहिए।
  • लगाने के बाद कम-से-कम पन्द्रह मिनट तक चेहरे पर लगा रहने देना चाहिए।
  • उसके बाद सादे पानी से धो लेना चाहिए। छोटे मस्सों को दूर करने के लिए धनिए को पानी में पीसकर लेप करें।
  • मस्से हटाने के लिए भुनी हुई फिटकरी एवं काली मिर्च मिलाकर लगाने से मस्से मिट जाते हैं।
  • आजकल ब्यूटी पार्लरों में मस्सों के लिए स्पेशल मास्क बनाया और लगाया जाता है जिससे मस्सों का सफाया हो जाता है।
  • भाप देकर मस्से निकालना एक गलत तरीका है। इससे त्वचा के रोमछिद्र बड़े होने की संभावना हो जाती है .
  • जो देखने में उतने ही भद्दे प्रतीत होते हैं, जितने कि मुहांसे अथवा मस्से।
  • पिंपल्स हटाने के लिए नींबू का रस, बादाम का तेल और ग्लिसरीन बराबर मात्रा में मिलाकर रख लें।
  • सुबह-शाम कुछ बूंदें पिंपल्स पर लगाएं।
  • AMLA 

  • आंवले (Amla) का पाउडर पानी में भिगोकर रात-भर भीगने दें। सुबह इसे उबटन की तरह लगाएं।
  • पिंपल्स ठीक हो जाएंगे।
  • पिंपल्स हटाने के लिए नीम के तेल का प्रयोग भी लाभ पहुचाता है।
  • pimples  के लिए चेहरे पर चने की दाल और नींबू के रस को मिलाकर पेस्ट लगाने से फायदा होता है।
  • पिंपल्स हटाने के लिए दिन में तीन-चार बार कपूर की एक टिकिया मुंहासों पर मलें।
  • चेहरे पर सप्ताह में एक बार भाप लें। भाप लेने से चेहरे के रोमछिद्र खुल जाते हैं,
  • जिससे पिंपल्स को आसानी से निकाला जा सकता है
  • पिंपल्स हटाने के लिए मुल्तानी मिट्टी, आंबा हल्दी पाउडर, नींबू का रस तथा गुलाब जल की बूंदों के साथ
  • एकान्शिया टिंक्चर की 10 बूंद, बर्बरीज एक्वीफोलिन टिंक्चर की
  • 10 बूंद तथा हेमेमालिज टिंक्चर की 10 बूंद-इन तीनों टिंक्चरों की उबटन (होमियोपैथी टिंक्चर) में मिलाकर चेहरे पर दो घंटे तक लगाएं।
  • बाद में चेहरा धो लें। फर्क आपकी नजर आ जाएगा।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *