पीरियड्स के दौरान ज्यादा ब्लीडिंग और पेन से है बचना, तो इन टिप्स को जरूर फॉलो करना

पीरियड्स के दौरान ज्यादा ब्लीडिंग और पेन से है बचना, तो इन टिप्स को जरूर फॉलो करना

पीरियड्स पेन को कम करने के लिए हम कई तरह के उपाय आजमाते हैं .

जैसे- हॉट वॉटर बॉटल का यूज करना, पर्याप्त मात्रा में पानी पीना, फ्रूट, जूस खाना।

बेशक ये सारे उपाय कारगर हैं लेकिन कुछ और भी चीज़ें हैं जो इस समस्या को कम करने में फायदेमंद साबित हो सकती हैं .

लेकिन इस ओर हम ध्यान नहीं देते। तो आज हम इन्हीं के बारे में बात करेंगे।

डेयरी प्रोडक्ट्स करें अवॉयड

पीरियड्स के दौरान डेयरी प्रोडक्ट्स को खासतौर से अवॉयड करना चाहिए।

हालांकि इस दौरान बॉडी को ज्यादा कैल्शियम की जरूरत होती है .

लेकिन उसकी पूर्ति आप सप्लीमेंट्स से करें तो बेहतर होगा।

डेयरी प्रोडक्ट्स खासतौर से दूध, चीज़ और योगर्ट में खास तरह का एसिड मौजूद होता है जो दर्द को और बढा़ने का काम करता है।

जंक फूड्स को कहें ना

हेल्दी खाना वैसे तो हमेशा ही जरूरी होता है लेकिन पीरियड्स के दौरान ये और ज्यादा जरूरी हो जाता है।

जंक फूड में सो़डियम बहुत ज्यादा मात्रा में होती है जिससे पीरियड्स के दौरान कई तरह की दूसरी परेशानियां हो सकती हैं।

न करें शेविंग और वैक्सिंग

पीरियड्स के दौरान एस्ट्रोजन लेवल बहुत ज्यादा बढ़ जाता है जिससे हल्की सी भी चोट या दर्द बहुत ज्यादा महसूस होती है।

इसलिए इस दौरान शेविंग या वैक्सिंग न ही करें तो बेहतर।

पैड्स बदलते रहें

इस टिप्स का कनेक्शन ब्लीडिंग और पेन कम करने से नहीं है बल्कि संक्रमण रोकने से है।

एक ही पैड को लंबे समय तक पहने रहने से इंफेक्शन का खतरा तो बढ़ता ही है .

साथ ही रैशेज की प्रॉब्लम भी, इसलिए ब्लीडिंग के हिसाब से 4-5 या 3-4 घंटे बाद पैड बदलते रहना जरूरी है।

अगर टैंपून का इस्तेमाल करती हैं तो हर दो से तीन घंटे में बदलें।

वजाइनल वॉश न करें यूज

पीरियड्स के दौरान तो खासतौर से वजाइनल वॉश यूज नहीं करना चाहिए .

क्योंकि वहां का नेचुरल पीएच लेवल गडबड़ हो जाता है .

जिससे इंफेक्शन होने का रिस्क बढ़ जाता है। अगर आपको साफ ही करना ह तो गरम पानी इसके लिए काफी है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here