मानसिक तनाव को केसे दूर करे ?

मानसिक तनाव को केसे दूर करे ?

आधुनिक जिंदगी में हर इंसान के पास तनाव बढ़ता जा रहा है, जिसकी वजह से एंग्जाइटी और डिप्रेशन जैसी बीमारियां जन्म ले रही है। किसी को ऑफिस का तनाव है, तो किसी को पैसे और नौकरी की चिंता है। ये परेशानियां आपका मानसिक स्ट्रेस बढ़ा रही हैं। आप जानते हैं कि ज्यादा सोचने, टेंशन लेने, तनाव, स्ट्रेस के कारण दिमाग पर बुरा असर पड़ता है, जिससे आप डिप्रेशन के शिकार हो सकते हैं। आप भी जिंदगी की मूलभूत जरुरतों को पूरा करने के लिए तनाव में रहते हैं तो अपनी इस परेशानी पर अंकुश लगाएं। हम आपको बताते हैं कि किन तरीकों को अपना कर आप मानसिक तनाव को कम कर सकते है.

कमरे के तापमान का ध्यान रखे

आपका बेड  सोने के लिए आरामदायक होना चाहिये खासकर के आपका तकिया क्योकि अगर आपका बेड सही होगा तो आप आराम से सो पायंगे आपके कमरे का तापमान normal होना चाहिये ताकि आप आराम से रह सके.

दिनचर्या बनाये

यदि आप अपने शरीर और मस्तिष्क को शांत करना चाहते हैं, तो सोने से कम से कम एक घंटे पहले आराम करें। अपने स्मार्टफोन को नीचे रखें उसमें वक्त नहीं बिताएं। गर्म पानी से नहाएं, किताब पढ़े, म्यूजिक सुने और ध्यान करें। मानसिक स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए ये सभी आदतें बहुत प्रभावी साबित हो सकती है.

  • अगर आप किसी पर्टिकुलर चीजों या आदतों से परेसान हो तो उन चीजों को अवॉयड करे
  • अगर आप परेसान है तो फ़ोन पे कॉमेडी वाली विडियो देख सकते है.
  • कभी कभी हमारा मन इनता परेसान होता है की फोन भी देखने का मन नही होता .
  • ऐसे में हम अगर फोन पर धार्मिक कथा सुनते है तो मन को बहुत सकून मिलता है.
  • उत्साह हमेसा रखना चाहिये उससे आपका मन शांत होगा अगर हमारे अन्दर उत्साह होगा तो हम हमेसा जबान रहंगे.
  • अच्छे दोस्त बनाये जिससे आप कभी परेसान हो तो उनसे अपने मन की बात करके  अपना मन हल्का कर सके.
  • दोस्तों या परिबार के साथ बाहर पिकनिक के लिए जाये उससे आपका मन बोहत शांत होगा,
  • अच्छा healthy भोजन करे उससे आपका सरीर भी स्वस्थ रहेगा और जब सरीर स्वस्थ रहेगा तो मन भी शांत रहेगा.

खुद से सकारात्मक बाते करे

खुद से बाते करना और उन बातो में सकारात्मक सब्द प्रयोग करने से stress जल्दी दूर हो जाता है

आपको दिन में एक बार ऐसा जरुर करना चाहिये.

 

 

 

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *