Bihar Board Exam Date 2022: इस तारीखों पर होगी कक्षा 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा

Bihar Board Exam 2022

कोरोना संक्रमण बढ़ते मामलों के बीच बिहार बोर्ड की 10वीं और 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाओं को लेकर कयासबाजी जारी है. ऐसे में बताया जा रहा है कि बिहार बोर्ड की 10वीं (Bihar Board 10th Board Exam) और 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षा (Bihar Board 12th Board Exam) पूर्व निर्धारित समय पर ही होगी.

यानी का 12वीं की बोर्ड परीक्षा 1 फरवरी से शुरू होगी और कक्षा 10वीं की परीक्षा 17 फरवरी से शुरू होगी. बिहार के शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी ने छात्रों को सूचित किया कि बोर्ड की परीक्षाएं पहले जारी किए गए कार्यक्रम के अनुसार ही आयोजित की जाएंगी. बता दें कि बोर्ड परीक्षा में शामिल होने के लिए कुल 30 लाख से अधिक छात्रों ने रजिस्ट्रेशन कराया है

bihar board exam date 2022

ये भी पढेUP Board Exam 2022 : होली बाद होंगे UP Board के पेपर, जानें ऑफिसियल डेट, फटाफट देखे

शिक्षा मंत्री ने बताया बै कि परीक्षा का आयोजन कोरोना नियमों को ध्यान में रखते हुए आयोजित की जाएगी. एक नए नियम के मुताबिक बिहार बोर्ड उम्मीदवारों को आधार कार्ड से भी बिहार बोर्ड परीक्षा 2022 के लिए उपस्थित होने की अनुमित देगा.

जिन छात्रों के एडमिट कार्ड या तस्वीर में कोई गलती है, उन्हें सत्यापन के लिए आईडी कार्ड, पैन कार्ड, मतदाता पहचान पत्र इत्यादि लेकर परीक्षा केंद्र पर जाना होगा

Name of Board BSEB i.e. Bihar School Exam Board
Name of Exam Matric Exam 2022
State Bihar
Bihar Board 10th Practical Exam Date 2022 20th January to 22nd January 2022
Bihar Board 10th Class Exam Date 2022 17th Feb to 24th Feb 2022
Bihar Matric Time Table 2022 pdf available now
Official website of BSEB biharboardonline.bihar.gov.in

बिहार बोर्ड की कक्षा 10वीं भर्ती परीक्षा का एडमिट कार्ड (Bihar Board 10th & 12th Exam Admit Card 2022) 8 जनवरी 2022 को जारी किया गया था. वहीं 12वीं कक्षा के लिए एडमिट कार्ड 20 जनवरी को जारी होने की संभावना है. उम्मीदवार बिहार कक्षा 10, 12 प्रवेश पत्र biharboardonline.bihar.gov.in पर जाकर डाउनलोड कर सकते हैं. वहीं 12वीं कक्षा की प्रैक्टिकल परीक्षा 20 जनवरी 2022 को आयोजित की जाएगी

निजी स्कूल में 80 व सरकारी में सिर्फ 25 छात्रों ने ही लगवाया टीका
कोरोना टीका लगवाने में सरकारी स्कूल के छात्र रुचि नहीं ले रहे हैं। ज्यादातर निजी स्कूलों में 80 फीसदी से अधिक छात्रों को टीका लगाया जा चुका है। वहीं, सरकारी स्कूल के 25 फीसदी बच्चों को टीका दिया गया है। अब पटना डीईओ ने सभी स्कूलों से नौवीं से 12वीं तक के नामांकित विद्यार्थी की संख्या मांगी है।

कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर 15 से 18 वर्ष तक के किशोरों को टीका लगाया जा रहा है। सरकारी स्कूलों में दो जनवरी से टीकाकरण शुरू किया गया। अब दस दिन से अधिक होने के बाद भी सरकारी स्कूल में 25 फीसदी किशोरों ने ही टीका लगवाया है। पटना जिला शिक्षा कार्यालय द्वारा समीक्षात्मक बैठक में यह निकल कर आया है। यह स्थिति सभी माध्यमिक, उच्च माध्यमिक इंटर विद्यालय, मदरसा और संस्कृत विद्यालयों की है।

 जानकारी मांगी गयी है स्कूलों से ये
– नौंवी से 12वीं में नामांकित विद्यार्थियों की संख्या
– 15 से 18 वर्ष के विद्यार्थियों की कुल संख्या
–  टीका ले चुके विद्यार्थी की संख्या
– 15 से 18 वर्ष के विद्यार्थियों का नाम जो टीका नहीं लिया है
– टीका नहीं लेने वाले छात्र के माता-पिता का नाम
– टीका नहीं लेने वाले विद्यार्थी की आधार संख्या
– ऐसे छात्र का मोबाइल नंबर

जिन छात्रों ने अभी तक कोरोना टीका नहीं लिया है। उन छात्रों के अभिभावकों से अब स्कूल प्रशासन द्वारा संपर्क किया जायेगा। ऐसे छात्रों के अभिभावकों को टीका लेने के प्रति जागरूक किया जायेगा। पटना डीईओ कार्यालय द्वारा सभी स्कूलों को अभिभावकों से संपर्क कर विद्यार्थियों को टीका लगाने के लिए जागरूक करने का निर्देश दिया है।

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *